मोहम्मद शमी कैसे बने स्विंग के सुल्तान-

भारतीय टीम में अनेक तेज गेंदबाज आए जिन्होंने शानदार प्रदर्शन भी किया। मोहम्मद शमी एक खास गेंदबाज है जो गेंद को दोनों ओर स्विंग करा सकते हैं। आइये आज जानते हैं मोहम्मद शमी के क्रिकेट करियर के बारे में

पूरा नाम-मोहम्मद शमी अहमद।

जन्म -9 मार्च 1990उत्तर प्रदेश, भारत।

बल्लेबाजी की शैली-दाहिने हाथ से।

गेंदबाजी की शैली -दाहिने हाथ से तेज गेंदबाज़ी।

टेस्ट में डेब्यू- 6 नवंबर 2013 वेस्टइंडीज के खिलाफ।

वनडे में डेब्यू -6 जनवरी 2013 को पाकिस्तान के खिलाफ।

T20 में डेब्यू- पाकिस्तान के खिलाफ 21 मार्च 2014 को।

मोहम्मद शमी ने भारत के लिए 57 टेस्ट मैच खेलते हुए 209 विकेट हासिल किए हैं जिनमें उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 56 देकर छह विकेट है। बल्ले से शमी ने 615 रन बनाये हैं जिसमें 2 अर्धशतक भी शामिल है।

शमी ने 79 वनडे खेलते हुए 148 विकेट हासिल किये है। जिसमें सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी प्रदर्शन 69 रन देकर पांच विकेट है। शमी ने 17 T20 मैच खेलते हुए 18 विकेट लिए हैं जिनमें सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी प्रदर्शन 15 रन देकर 3 विकेट है।

शमी ने 77 आईपीएल मैच खेलते हुए 79 विकेट हासिल किए हैं।जिसमें सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी प्रदर्शन 15 रन देकर 3 विकेट है।

घरेलू टीमें- बंगाल, कोलकाता नाइट राइडर्स,दिल्ली कैपिटल्स, किंग्स इलेवन पंजाब, गुजरात टाइटंस।

शमी ने अपने प्रथम श्रेणी क्रिकेट करियर की शुरुआत 2010 में असम के खिलाफ खेलकर की । इसमें उन्होंने तीन विकेट लिए। 2012—13 की Ranji Trophy के मैच में हैदराबाद के खिलाफ मैच में शमी ने पहली पारी में 36 रन पर 4 विकेट लिए। दूसरी पारी में 71 रन देकर 6 विकेट लिए। इसके बाद बंगाल की टीम के लिए 6 गेंदों में नाबाद 15 रन बनाकर टीम को 4 विकेट से जीतने में अहम भूमिका निभाई। प्रथम श्रेणी क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन के चलते 2013 में शमी को भारतीय टीम में शामिल कर लिया गया।

Leave a Comment