रविचंद्रन अश्विन कैसे बने भारत के सबसे सफल गेंदबाज-

भारत में स्पिनर गेंदबाजों का हमेशा ही दबदबा रहा है।आज हम ऐसे ही एक स्पिन गेंदबाज की बात करें हैं।जिसने अपने प्रदर्शन के दम पर अलग ही मुकाम पाया है। आइए जानते हैं रविचंद्रन अश्वनी के क्रिकेट करियर के बारे में।

पूरा नाम-रविचंद्रन अश्विन।

पिता का नाम-रविचंद्रनअश्विन।

माता का नाम-चित्राअश्विन।

पत्नी का नाम- प्रीति।

जन्म- 17 सितंबर 1986 चेन्नई तमिलनाडु में हुआ।

बल्लेबाजी की शैली -दाएं हाथ से।

गेंदबाजी- राइट आर्म ऑफ स्पिन।

टेस्ट में डेब्यू -6 नवंबर 2011 को वेस्टइंडीज के खिलाफ।

वनडे में डेब्यू- 5 जून 2010 को श्रीलंका के खिलाफ।

T20 में डेब्यू -12 जून 2010 को जिंबाब्वे के खिलाफ।

घरेलू टीमें- 2007 में तमिलनाडु से खेले।

2. 2009 से 2015 तक चेन्नई सुपर किंग से खेले।

3. 2016-17 में राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स के लिए खेलें।

4. 2018-19 में किंग्स इलेवन पंजाब के लिए खेलें।

5. 2020-21 में दिल्ली कैपिटल से खेले।

6. 2022 में राजस्थान रॉयल्स से खेले।

रविचंद्रन अश्विन ने 84 टेस्ट मैच खेलते हुए 2844 रन बनाए हैं। जिनमें पांच शतक व 11 अर्धशतक शामिल है ।गेंदबाजी से भी शानदार प्रदर्शन करते हुए 430 विकेट हासिल किए हैं।जिनमें उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 59 रन देकर सात विकेट रहा है।

रविचंद्रन ने वनडे में 113 मैच खेले हैं जिसमें 707 रन बनाए हैं और 151 विकेट भी हासिल किए हैं। सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी प्रदर्शन 25 रन देकर चार विकेट रहा है।

टी-20 में भी रविचंद्रन अश्विन का प्रदर्शन शानदार है 51 T20 मैच खेलते हुए अश्वनी ने 123 रन व 61 विकेट हासिल किए हैं। आईपीएल में भी रविचंद्रन अश्विन का जलवा कायम रहा है 167 आईपीएल मैचों में 145 विकेट हासिल किए हैं साथ में ही 456 रन भी बनाए हैं।सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी प्रदर्शन 34 रन देकर चार विकेट रहा है।

अनिल कुंबले की तरह ही रविचंद्रन अश्विन ने भी अभियांत्रिकी की पढ़ाई छोड़कर क्रिकेट में अपना करियर बनाने की सोची। रविचंद्रन अश्विन की क्रिकेट करियर की शुरुआत 2006 में तमिलनाडु से हुई।उसके बाद 2009 में चेन्नई सुपर किंग्स ने खरीद लिया। 2010 में चेन्नई सुपर किंग्स के लिए शानदार प्रदर्शन करते हुए पर्पल कैप जीत कर सभी को चौंका दिया। जिसके चलते भारत के लिए खेलने का मौका मिला। अपना पहला वनडे 5 जून 2010 को श्रीलंका के खिलाफ खेला। T-20 में डेब्यू 12 जून 2010 को जिंबाब्वे के खिलाफ किया। वनडे और टी-20 में शानदार प्रदर्शन के चलते रविचंद्रन अश्विन ने 6 नवंबर 2011 को अपना पहला अंतरराष्ट्रीय टेस्ट मैच वेस्टइंडीज के खिलाफ खेला।

Leave a Comment