CRPF के सैनिक पिता ने बताई रवि कुमार के स्ट्रगल की कहानी जो पहले ताना देते थे अब करते हैं सलाम-

रवि कुमार का जन्म 29 अक्टूबर 2003 को कोलकाता में हुआ।इनके पिता का नाम राजेंद्र कुमार है जो सीआरपीएफ के जवान है।रवि कुमार को बचपन से ही खेल के प्रति रुचि थी। जब रवि कुमार को टीवी देखने से उनकी माता मना करती तो रवि कुमार कहते हैं कि वह भी एक दिन टीवी पर जरूर आएगा।खेल के प्रति रुचि देखकर उनके पिता ने रवि कुमार को क्रिकेट खिलाना शुरु किया। कोच अरविंद भारद्वाज के मार्गदर्शन में एक शानदार तेज गेंदबाज के रूप में उभरे। उनके पिता ने बताया कि रवि को अंडर-19 तक पहुंचने के लिए काफी संघर्ष करना पड़ा। रवि कुमार के पिता ने बताया कि उनके पास ज्यादा ना तो संसाधन थे और ना ही ज्यादा पैसे थे।उनकी माता उनकी पढ़ाई के प्रति चिंतित रहती थी। जब अंडर-19 टीम के लिए रवि कुमार का चयन हुआ तब सबसे ज्यादा खुश उनकी माता हुई। रवि कुमार ने अंडर-19 वर्ल्ड कप में भारत की जीत में अहम योगदान निभाया। उन्होंने बांग्लादेश के खिलाफ खेले गए मैच में एक यादगार स्पेल डाला जिसमें उन्होंने 14 रन देकर तीन विकेट लिए। फाइनल मैच में इंग्लैंड के खिलाफ 34 रन देकर चार महत्वपूर्ण विकेट लिए और भारत को विश्व का विजेता बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

Leave a Comment